दुनिया की 10 सबसे खतरनाक विलुप्त जानवर कोन से हे ? Top 10 most dangerous extinct Animals

5411

नमस्कार, सत श्री अकाल, आदाब। तो मैं हूं आपका दोस्त, और इस वेबसाइट का होस्ट प्रतीक और लेकर आया हूं आपके लिए एक बहुत ही कमाल का आर्टिकल जिसमें मैं आपको बताऊंगा दुनिया की 10 सबसे खतरनाक विलुप्त जानवर के बारे में। तो आज के इस आर्टिकल में मैं आपको दुनिया के 10 सबसे खतरनाक विलुप्त जानवर के बारे में जानकारी दूंगा और उनकी तस्वीरें दिखाऊंगा। तो ऐ आर्टिकल बहुत कमाल का होगा तो इसे जरूर पढ़िए।

आपको किसी भी जानवर की तस्वीर देखनी हो उसके नाम पर क्लिक कीजिये!

अनुक्रम

10. टेरर बर्ड्स

तो दोस्तो टेरर बर्ड्स का वैज्ञानिक नाम फॉरुस्के्ड है। ऐ पक्षी आमतौर पर दक्षिण अमेरिका में पाए जाते थे। यह पक्षी बहुत विशाल हुआ करते थे। ऐ पक्षी मांसाहारी हुआ करते थे और बड़े बड़े जानवर को भी मारकर खाया करते थे। ऐ पक्षी सेनोइक ऐरा यानी आज से छह करोड़ से लेकर 18 लाख साल पहले पाए जाते थे। आमतौर पर इनकी ऊंचाई 3 फीट 3 इंच से लेकर 9 से 10 फीट तक हुआ करती थी। इन पक्षियों की आज की प्रजातियां काफी छोटी है जिनकी ऊंचाई केवल 80 से मी तक है। और आज से 26 लाख साल पहले यह पक्षी प्रवास करके उत्तर अमेरिका गए थे। जब धरती पर सबसे पहले इंसान आए थे तब यह पक्षी पूरी तरह से विलुप्त हो गए थे। यह पक्षी लगभग 48 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से भाग सकते थे।

उनकी खोपड़ी काफी बड़ी हुआ करती थी और इनकी चोंच बहुत ही खतरनाक और नुकीली हुआ करती थी जिससे किसी का भी खात्मा कर सकते थे। तब के जमाने के बाघ को भी मारकर खाते थे। तो दोस्तों यह बहुत ही खतरनाक पक्षी हुआ करते थे।

9. Kaprosuchus. केर्पोसुचस

तो दोस्तों यह जानवर कुछ इस प्रकार दिखते थे, इनका ऊपरी भाग यानी इनका सर मगरमच्छ के सिर की तरह दिखता था और नीचे का हिस्सा किसी डायनासोर की तरह दिखता था। आप इसे मगरमच्छ और डायनासोर का बच्चा क्या सकते हैं। यह बहुत ही खतरनाक जानवर हुआ करते थे।

यह लगभग 20 फुट जितने लंबे हुआ करते थे। इनकी खोपड़ी का ऊपरी भाग लगभग 500 मिलीमीटर और निचला भाग लगभग 600 मिलीमीटर हुआ करता था। यह लगभग 10 करोड़ से लेकर 9 करोड साल पहले पाए जाते हैं। यह केंद्रीय अफ्रीका में रहते थे। अगर आप इनके सामने जाते हो तो आपका बचना नामुमकिन है।

8. Arthropleura.आरथोय्प्लारा

तो दोस्तों अगर आप इस जानवर को देखते हो तो आपके रोंगटे खड़े हो जाएंगे। क्योंकि इन दिखने में ही बहुत खतरनाक है। यहां पर आप इसकी तस्वीर मैं देख सकते हो यह कितना खतरनाक दिखता है। आरथोय्प्लारा का मतलब होता है जुड़ी हुई रीढ़ की हड्डीया। यह जानवर 31 करोड़ से लेकर 29 करोड़ साल पहले पाए जाते थे। यह उत्तर अमेरिका और स्कॉटलैंड में पाए जाते थे। तो दोस्तों यह अब तक के देखे गए सबसे बड़े बिना रीड की हड्डी के जानवर हुआ करते थे। लेकिन दोस्तों इसे देखकर घबराने की जरूरत नहीं है, क्योंकि यह पूरी तरह शाकाहारी होते थे और सिर्फ पेड-पत्ती ही खाते थे, यकीन करना बहुत मुश्किल है, लेकिन यह सच है।

इनकी लंबाई 300 सेमी से लेकर ढाई मीटर तक होती थी। और तभी वातावरण में ऑक्सीजन की मात्रा ज्यादा होने के कारण इनका आकार और भी बढ़ सकता था। इनका शरीर 30 जुड़ी हुई प्लेट्स की जोड़ी और 30 प्लेट्स जो बीच में हुआ करती थी, उन से बना था। यह प्लेट उनके पैरों से 8 गुना बड़ी हुआ करती थी।

7. Haast Eagle. हॉस्ट ईगल

तो दोस्तों यह अब तक के देखे गए सबसे बड़े गरुड़ पक्षी यानी इगल हुआ करते थे। और सबसे कमाल की बात यह है कि यह सिर्फ 600 साल पहले ही विलुप्त हुए थे। यह बहुत ही बड़े और खतरनाक पक्षी हुआ करते थे। यह दक्षिणी न्यूजीलैंड में पाए जाते थे। इनका आकार इसलिए बड़ा हुआ था, क्योंकि उनका शिकार बहुत बड़ा हुआ करता था, जिसका नाम था “मोआ” और उसका वजन 230 किलो तक हुआ करता था इसलिए यह इतने बड़े हो सके।

और इनका शिकार विलुप्त होने के कारण यह भी विलुप्त हो गए। इनका वजन 9 से 15 किलो तक हुआ करता था, लेकिन यह अपने वजन से 20 गुना ज्यादा वजन उठा सकते थे। इनके पंजे बहुत विशाल हुआ करते थे और इनके पंखों चौड़ा पन लगभग 8 से 9 फीट हुआ करता था।

6. Mosasaurs. मोसासोरस

तो दोस्तों, मोसासोरस एक मांसाहारी और समुद्री जीव है। ए जानवर आज से 7 करोड़ से लेकर 6 करोड़ साल पहले पाए जाते थे। यह जानवर, उत्तर अमेरिका, पश्चिमी यूरोप, जापान और न्यूजीलैंड के समुद्र तटों के आसपास पाए जाते हैं। यहां अपने से छोटे जानवरों को खा कर बहुत बड़े हो जाते थे। यह 40 से लेकर 50 फीट तक लंबे हो सकते थे। और इनका वजन 15000 से लेकर 20000 किलो तक हुआ करता था।

यह बहुत ही तेजी से तेर सकते थे और छोटे जानवरों को पकड़ते थे। इनकी कंकाल की खोज 1764 में हुई थी। इनकी बाइट फोर्स यानी काटने का बल 11000 पाउंड प्रति इंच हुआ करता था। इनके जबड़े की छोर पर यहां बल 80000 पाउंड प्रति इंच हुआ करता था, जो कि अब तक देखा गया किसी भी जिव में सबसे ज्यादा है। तो यह बहुत ही खतरनाक जानवर हुआ करते थे।

5. Quetzalcoatlus. क्वेटजालकोटलस

यह अब तक के देखे गए सबसे बड़े उड़ने वाले जिव थे। यह 7 करोड़ से लेकर साडे 6 करोड़ साल पहले उत्तर अमेरिका में पाए जाते थे। इनके पंखों का चोडाव लगभग 35 फीट से लेकर 45 फीट तक हुआ करता था। और इनकी ऊंचाई लगभग 20 फिट हुआ करती थी। तो आप इससे अंदाजा लगा सकते हैं, कि अब तक के सबसे बड़े उड़ने वाले जिव थे। इनका वजन 230 किलो से लेकर 270 किलो तक हुआ करता था।

यह छोटे डायनासोर के बच्चे को खाते थे। और लगभग साडे 4 किलोमीटर की ऊंचाई पर उड़ते थे। यह एक बार मैं एक हफ्ते तक उड सकते थे। और सबसे चौंकाने वाली बात यह है, की यहां साल में एक बार 10,000 किलोमीटर तक उड़कर सफर करते थे वह भी एक बार में। और इनकी उड़ने की स्पीड लगभग 130 किलोमीटर प्रति घंटा हुआ करती थी।

4. Trynasaurus. (T-Rex) ट्राईनासोरस

तो दोस्तों, यह एक बहुत ही खतरनाक मांसाहारी डायनासोर थे। यह पश्चिमी उत्तर अमेरिका में पाए जाते थे, वह भी आज से 7 लेकर 6 करोड़ साल पहले। और इन्हें डायनासोर का राजा भी कहा जाता है। क्योंकि सभी में यह सबसे खतरनाक हुआ करते थे। इनकी ऊंचाई लगभग 40 फीट जितनी हुआ करती थी। और इनकी काटने का बल बड़े से बड़े जानवर को भी मार गिरा सकता था। यह अपने काटने के बल पर अपने से छोटे सभी जीव को मार कर खाते थे।

3. Smilodon (Saber Tooth) स्माइलीडॉन

तो यह अब तक का देखा गया सबसे बड़ा बाघ है। यह आज से 25 लाख साल से लेकर 10000 साल पहले पाए जातें थे। इनका नाम “सेबर टूथ” इसलिए पड़ा क्योंकि इनके दो दांत बाहर हुआ करते थे। यह आज के बाघ से डेढ़ गुना ज्यादा बढ़ा हुआ करता था। यह उत्तर और दक्षिण अमेरिका में पाए जाते थे। इनकी प्रजाति का अधिकतम वजन 400 किलो तक होता था, और आज के बाघ से डेढ़ गुना ज्यादा उचे हुआ करते।

यह अपने वक्त में फूड चैन में सबसे ऊपर आया करते थे। यह अपने से छोटे सारे जानवरों को शिकार करते थे। आज के बाघ जंगल में अकेले रहते हैं, लेकिन यह अपने झुंड में रहते थे।

2. Megalodon. मेगलाडोन

तो दोस्तों इसकी बहुत ही कम संभावना है कि आपने इस जानवर का नाम सुना नहीं होगा। तो यह अब तक की सबसे बड़ी शार्क मछली हुआ करती थी। यहां आज से 2 करोड़ से लेकर 36 लाख साल पहले पाई जाती थी। इनके काटने का बल लगभग 40000 पाउंड इंच हुआ करता था। इन की अधिकतम लंबाई 55 से 60 फीट हुआ करती थी।

हिंदी में मेगलाडॉन का अर्थ होता है, “बड़ा दांत”। और काफी लोगों का मानना यह है, कि आज के समुद्र कि सबसे गहरी जगह “मरीना ट्रेंच” में यह जिंदा हो सकती है। यह‌ शार्क मछली अपने से छोटे जीव को मार कर खाती थी।

1. Titanoboa. टाइटेनोबोआ

तो यह हमारी विश्व का सबसे खतरनाक जानवर है। दोस्तों, टाइटन किसी भी प्रजाति के, उस जीव के सामने लगाया जाता है जो अपनी प्रजाति का सबसे बड़ा जीव हो। टाइटेनोबोआ, सांपों की प्रजाति का सबसे बड़ा सांप है। यह सांप से इतना खतरनाक है, कि यहां डायनासोर को भी मार सकता था। इनकी लंबाई लगभग 45 से 50 फिट जितनी हुआ करती थी, और इनका वजन लगभग 1 टन से लेकर 1.5 टन तक होता था।

और जहां आज कोलंबिया है, वहां यह सांप 6 करोड़ साल पहले पाए जाते थे। और दोस्तों आज जो हमें एनाकोंडा दिखाई देते हैं उनसे भी एक बड़े हुआ करते थे। और सबसे खास बात यह है कि यह मगरमच्छ को बड़े चाव से खाते थे, जिस मगरमच्छ से आज हम इतना डरते हैं। तो दोस्तों यहां थे, दुनिया की 10 सबसे खतरनाक विलुप्त जानवर।

मुझे पता है इन जानवरों को देखकर आप चौक गए होंगे। अधिक जानकारी के लिए आप हमारे दूसरे आर्टिकल्स यहां पर पढ़ briefingpedia.com सकते हैं.