OTP क्या होता है? यह कैसे काम करता है?

2892

OTP kya है: आप भी मोबाइल मे हर जगह OTP का इस्तेमाल होते देखते होंगे। बैंक से पैसे ट्रांसफर करने से लेकर अपने whatsapp पर लॉगिन करने तक हर जगह ओटीपी का इस्तेमाल किया जाता है। OTP को इन्टरनेट पर लॉगिन करने के लिए सबसे सुरक्षित तरीके माना जाता है। 

मगर क्या आपको पता है आखिर OTP काम कैसे करता है? और क्या यह सच मे हमे इतना सुरक्षित रखता है? क्या इसके इस्तेमाल से हमारा डिवाइस कभी हैक नही हो सकता। ओ टी पी के फायदे और नुक्सान क्या है। यह सब हम जानेंगे आज के इस आर्टिकल मे। कृपा पोस्ट को पूरा जरुर पढ़े |

Otp
OTP – One Time Password

अनुक्रम

OTP क्या होता है – Otp full form

OTP full form – One Time Password यह एक ऐसा पासवर्ड होता है जिससे हम बस एक बार लॉगिन या कोई लेन-देन कर सकते है। उसके बाद इसकी कोई कीमत नही रहती। हर बार हमें एक बिलकुल 6 से 4 अंको का अलग ओटीपी मिलता है जिसे हम लॉगिन या लेन-देन करते समय डालना पड़ता है।

ओटीपी ज्यादातर SMS या email द्वारा ही भेजा जाता है। 

इसकी वजह से कोई हमारा  पासवर्ड जानने के बाद भी हमारी मर्ज़ी के बिना हमारी आई-डी से लॉगिन नही कर पाता। आजकल ऑनलाइन खरीदारी और सोशल-मीडिया ऍप्लिकेशन्स पर ओटीपी का इस्तेमाल किया जा रहा है। मगर ये कितना सुरक्षित है इस बारे मे हम आगे बात करेंगे। 

यह भी पढ़े: PUBG Game का मालिक कौन है

OTP की जरूरत क्यों पड़ी

ओटीपी प्रणाली के आने से पहले इन्टरनेट इतना सुरक्षित नही था। अगर आप अपना कोई अकाउंट बनाते थे और आपका पासवर्ड कोई किसी भी तरीके से पता लगा लेता था तो वह आपके सारे पैसे निकाल सकता था। या आपकी निजी जानकारी का गलत इस्तेमाल कर सकता था। आपका पासवर्ड निकलने के लिए हैकर्स ने कई तरीके ढूंढ रखे थे। 

वे लोगो के पासवर्ड का अंदाज़ा लगाते थे जैसे ज्यादातर लोग अपना नाम और जन्मदिन को मिलाके पासवर्ड रखते है। इसके आलावा वे कई पासवर्ड डालते रहते थे जब तक सही पासवर्ड का पता न लग जाए। इसके अलावा वे “जाली वेबसाइट्स” बनाके आपसे लॉगिन करवाते थे और वहाँ से आपका पासवर्ड निकाल लेते थे। इससे लोग ऑनलाइन खरीदारी या पेसो का लेन देन करने से बहुत डरने लगे गये थे। मगर ओ टी पी आने के बाद से यह सब बदल गया और लोगो का विश्वास लौट आया। 

OTP कहाँ-कहाँ इस्तेमाल किया जाता है

otp

आजकल हर कंपनी द्वारा अपने यूज़र्स से ऑनलाइन लॉगिन या लेन-देन करवाने के लिए ओटीपी के इस्तेमाल पर जोर दिया जाता है। ऐसा इसलिए ताकि उनके यूज़र्स सुरक्षित रहे और कंपनी पर भी अपना भरोसा बनाये रखे। फिर भी ज्यादातर ओ टी पी का इस्तेमाल हम ऑनलाइन खरीदारी या पैसे ट्रांसफर करते वक़्त देखते है। 

इसके अलावा आजकल सोशल मीडिया ऍप्लिकेशन्स भी ओटीपी का इस्तेमाल करती है। इसका सबसे अच्छा उदाहरण व्हात्सप्प और टेलीग्राम है जहा लॉगिन करने के लिए सिर्फ ओ टी पी की आवश्यकता होती है। इसके अलावा कई दूसरे अप्प्स (जैसे इंस्टाग्राम) आजकल two-factor authentication लेकर आ रही है जिसमे आपको पहले अपना पासवर्ड और फिर ओटीपी दोनों डालने होते है। इससे अकाउंट हैक होने का डर बिलकुल कम हो जाता है। 

यह भी पढ़े: डिजिटल मार्केटिंग क्या है?

OTP कैसे काम करता है

OTP पासवर्ड हमको किसी न किसी सॉफ्टवेयर द्वारा भेजे जाते है। यह सॉफ्टवेयर एक बेतरतीब तरीके से कोई भी 6 या 4 अंक का नंबर चुनता है और हमे SMS या ईमेल के जरिये भेज देता है। यह OTP चुनने मे सॉफ्टवेयर किसी भी तरीके का पालन नही करता है। और अगली बार सॉफ्टवेयर क्या OTP निकालेगा, यह सॉफ्टवेयर बनाने वाले तक को भी नही पता होता है। 

इसके बाद इसको बिलकुल जल्द से जल्द SMS या email द्वारा यूजर को भेज दिया जाता है। यह एक ही ईमेल या नंबर पर भेजा जाता है ताकि कोई और इसका गलत इस्तेमाल न कर सके। और इस तरह बिलकुल सुरक्षित ढंग से OTP आपके मोबाइल तक पहुचता है।  

OTP का क्या फायदा है

otp के फायदे

OTP का सबसे बड़ा फायदा तो यही है कि इसका पहले से पता लगाना असंभव है। तो इसको आसानी से हैक नही किया जा सकता। एक OTP पाने के लिए एक व्यक्ति के पास वो मोबाइल नंबर होना ही चाहिए। तो जब तक आपका मोबाइल फ़ोन आपके पास है तब तक कोई भी आपके अकाउंट मे घुसके पैसे या जानकारी नही निकाल सकता। 

यही कारण है कि जब ओटीपी का इस्तेमाल होने शुरू हुआ तब जल्द ही हैकिंग के केस आने कम हो गए। इसके बाद OTP का एक बड़ा फायदा ये भी है कि आपको पासवर्ड याद नही रखने पड़ते। और अगर आप पासवर्ड भूल भी जाते हो तो OTP के द्वारा पासवर्ड बदल सकते हो। इससे इन्टरनेट इस्तेमाल करना काफी आसान और सुरक्षित हो जाता है। 

यह भी पढ़े: Tamilrockers कौन है ?

OTP के क्या नुकसान है

आपको शायद लगता होगा की OTP प्रणाली का इस्तेमाल करने के बाद आपका अकाउंट कभी हैक नही हो सकता। मगर मे आपको बताना चाहूंगा कि ऐसा बिल्कुल नही है। इसके बाद भी हैकर्स आपके अकाउंट से पैसे निकाल सकते है और निकालते भी है।

सबसे पहले हैकर्स आपके फ़ोन मे कोई एप्प इंस्टॉल करवाके आपका ओटीपी पता लगा सकते है। तो प्ले-स्टोर के अलावा कही और से ऐप्प इंस्टॉल न करे। उसके बाद हैकर्स आपको फ़ोन करके आपसे आपका ओटीपी मांग सकते है। अब उस समय आप शायद उनको कोई कंपनी का बन्दा समझकर अपना ओटीपी देने की गलती कर सकते है। मगर इसकी कीमत आपको अपना अकाउंट खाली करवाके चुकानी होगी।

तो हमेशा ध्यान रखे की आपका ओटीपी आप तब तक किसी को न दे जब तक आपको उसपे पूरा विश्वास न हो। क्योंकि आपकी सुरक्षा आपका अपना कर्तव्य है। 

आज आपने क्या सीखा

आज आपने जाना की OTP full form, OTP किस तरह से काम करता है और इसका हमारी जिंदगी मे क्या महत्व है। इसके बाद हमने यह भी जाना की OTP के क्या फायदे है और यह हमें कैसे सुरक्षित रखता है। और खुदको हैकर्स से बचाने के लिए भी हमने कुछ महत्वपूर्ण बातें जानी। अगर आपको यह सब पसन्द आया हो तो इस आर्टिकल को अपने दोस्तों और परिवार वालो मे शेयर करे। और ऐसे ही और आर्टिकल पड़ने के लिए हमारी वेबसाइट को सब्सक्राइब करे और नोटिफिकेशन चालू कर।

आपसे मुलाक़ात होगी फिर किसी रोमांचक टॉपिक के साथ। तब तक के लिए जय हिंद।