इतिहास से जुड़े 20 अनोखे तथ्य, 20 Amazing Facts About History.

1839

 तो दोस्तों आज के इस आर्टिकल मैं हम आपको इतिहास में हुई कुछ ऐसी रोचक जानकारियों से रूबरू कराएंगे जिन्हें शायद आप नहीं जानते होंगे और हम आपको यकीन दिलाते हैं कि अगर आप इन सभी तथ्यों को पढ़ लेते हो तो आप अपने ज्ञान के भंडार को और बढ़ा लोगे |

  1. अपनी मौत के वक्त भी कोलंबस इस बात से बेखबर रहे कि उन्होंने जिस महाद्वीप की खोज की है वह भारत नहीं है बल्कि कोई प्रदेश अमेरिका है जी हां दोस्तों यानी कि कोलंबस को भी नहीं पता था कि उसने क्या कर दिया है और एक अमेरिका जैसे देश को उसने जन्म दिया है लेकिन उस समय अमेरिका विकसित नहीं था लेकिन आज हो गया है |
  2.  मिस्र में 138 पिरामिड है लेकिन इनमें से गीजा का सिर्फ एक ही विशालकाय पिरामिड है जो विश्व के सात आश्चर्य की सूची में आता है |
  3. अल्बर्ट आइंस्टीन की मृत्यु के बाद उनकी आखिरी शब्दों की भी मृत्यु हो गई क्योंकि उनके करीब जो नर्स थी जो उनकी देखभाल कर रही थी उसे जर्मन समझ नहीं आती थी जी हां दोस्तों और आज तक हमें यह पता नहीं लग पाया है कि अल्बर्ट आइंस्टीन के आखिरी शब्द क्या थे |
  4. यह आपकी और हमारी खुशहाली है कि हम मानव इतिहास के सबसे अच्छे और जबरदस्त समय में रह रहे हैं क्योंकि इससे पहले मानव ने बहुत सी परेशानियां सहन कर  रखी है |
  5. 3 अप्रैल 1973 को मोटोरोला के इंजीनियर मार्टिन कूपर ने पहली बार मोबाइल फोन से बात की थी और मार्टिन को इसे बाजार में लाने में 10 साल का समय लग गया और दोस्तों मार्टिन कूपर जी ने इस बात को न्यूयॉर्क के हिल्टन होटल में किया था | और उन्होंने अपने दोस्त जोयल से कहा “जोयल मैं आपको एक सेल्यूलर फोन, एक असली सेल्यूलर फोन से बात कर रहा हूं ” भले ही यह फोन 1973 में किया गया था  लेकिन इसके 10 साल बाद मोटोरोला ने 1983 में अपना पहला मोबाइल फोन “डायनाटेक 8000x” लांच किया जी हां दोस्तों | और यह फोन विश्व का सबसे पहला फोन बना |
  6. केरल के कीजापेरूमपल्लम गांव में एक ऐसा भी मंदिर है जिसकी खास बात यह है कि यहां दूध चढ़ाने पर इसका रंग नीला हो जाता है इस मंदिर को नागनाथस्वामी मंदिर के नाम से भी जाना जाता है इसे केति स्थल(Kethu Sthalam)भी कहा जाता है |
  7. 1811 में एक जबरदस्त भूचाल के कारण उत्तरी अमेरिका की मिसीसिपी नाम की नदी उलटी दिशा में बहने लगी थी और यह नदी दुनिया की चौथी सबसे बड़ी नदी है |
  8. फरवरी 1865 मैं एक ऐसा इकलौता महीना इतिहास में रिकॉर्ड किया गया जिसमें पूर्णिमा (पूरा चांद) ना आया हो |और ऐसी घटना दोबारा नहीं हुई जिससे इस घटना के पीछे का राज पता चल सके |
  9.  मानव इतिहास में एक 5000 साल पहले केवल एक ही रोग होता था “चेचक” 
  10. सन 1856 में एक अंग्रेज इंजीनियर रेड रोड बनाने के लिए जमीन की खुदाई कर रहे थे खुदाई के दौरान उन्होंने देखा कि उन्हें कुछ ऐसी ईट मिली है जो कि आज की ईंटों से बखूबी मिलती हैं इसे देखकर उन्होंने और वहां के लोगों ने ईट के पीछे का सच जानना चाहा लेकिन इंजीनियर समझ गए थे कि यह एक ऐतिहासिक जगह है | जिसकी वजह से 1922 में वहां की खुदाई राम लद्दाख बनर्जी ने की और यह वही जगह है जिसे आज हम मोहनजोदड़ो के नाम से जानते हैं |
  11. दुनिया में शायद ही कुछ लोगों को पता होगा कि दुनिया में सबसे पहला मकबरा भारत में ही बनाया गया था | यह कब्र शाहजहां ने हुमायूं के लिए बनाई थी हालांकि उसके बाद उनकी पत्नी और अन्य मुगल खानदान के लोगों को भी यही दफनाया गया |
  12.  तिरुपति स्थित विष्णु मंदिर दुनिया का एकमात्र ऐसा मंदिर है जहां सबसे ज्यादा श्रद्धालु आते हैं यहां वेटिकन और मक्का से भी श्रद्धालु घूमने के लिए आते हैं |
  13. आपको यह जानकर खुशी होगी कि भारत की सभ्यता विश्व में सबसे पुरानी है यहां तक कि विश्व के कई प्राचीन स्थान और इमारतें भारत में है भारत के प्राचीन साम्राज्य मित्र और मेसोपोटामिया से भी पहले के हैं और भारत में मोहनजोदड़ो और हड़प्पा जैसे पुराने स्थल खोजे गए हैं जो कि अपने आप में ही रहस्यमई हैं |
  14. दोस्तों सब यह मानते हैं कि शाहजहां ने ताजमहल बनाने वाले सभी मजदूरों के हाथ काट दिए थे लेकिन सच तो यह है की ताजमहल बनाने वाले मजदूरों के हाथ शाहजहां ने नहीं कटवाए थे | बल्कि इतिहासकारों के शाहजहां ने मजदूरों से उनकी जिंदगी भर की पगार देकर उन्हें आजीवन काम  ना करने का वादा करवाया था  जिससे कि वह कहीं और काम नहीं कर सकेंगे |
  15. दोस्तों लोग यह भी मानते हैं कि 19वीं सदी में ताजमहल यमुना नदी में डूब गया था और इसमें दरारें आई थी लेकिन सच तो यह है कि ऐसा कुछ भी नहीं हुआ था और एएसआई (A.S.I) के रिकार्ड्स में ताजमहल कभी भी यमुना में नहीं डूबा और ना ही इसमें विशाल दरारें आई हैं जी हां दोस्तों |
  16. इतिहास में सबसे छोटा युद्ध सन 1896 में इंग्लैंड और जंजीबार (पूर्वी अफ्रीका) के बीच में हुआ था जो कि केवल 38 मिनट तक चला था | यह युद्ध 27 अगस्त 1896 को सुबह 9:00 बजे शुरू हुआ था जो कि केवल 38 मिनट तक चला था इस युद्ध की नींव उस समय पड़ी जब जंजीबार को लेकर जर्मनी और ब्रिटेन के बीच साल 1890 में संधि पर हस्ताक्षर हुआ |
  17.  प्राचीन रोमन कैलेंडर में जनवरी और फरवरी के महीने नहीं होते थे अतः उनका नव वर्ष 1 मार्च को मनाया जाता था | और दोस्तों 1 जनवरी को नववर्ष मनाने का चलन 1582 ईस्वी में ग्रेगोरियन कैलेंडर के आरंभ के बाद हुआ इस कैलेंडर के अनुसार नया साल 14 जनवरी को मनाया जाता था इस कैलेंडर में कई बार सुधार किए गए पहली बार इसमें सुधार पोप ग्रेगरी 13 के काल में 2 मार्च 1582 में उनके आदेश पर हुआ |
  18.  मध्यकालीन इतिहास मैं अत्यंत संपन्न विजयनगर शहर में अब कोई नहीं रहता यह नगर हंपी खंडरो के नाम से प्रसिद्ध है यह हंपी खंडहर कर्नाटक में स्थित हैं  और हम हंपी खंडहर इतिहास में सबसे शहर के रूप में जाने जाते थे | और विश्व में दूसरे स्थान पर 
  19.  रोम दुनिया का वह शहर है जिसकी आबादी ने सबसे पहले 10 लाख का आंकड़ा पार किया था |
  20. 1962 में अमेरिका ने अंतरिक्ष में हाइड्रोजन बम विस्फोट किया था यह हिरोशिमा पर गिराए गए बम से 100 गुना शक्तिशाली था |

अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया हो तो आप हमारी वेबसाइट के और भी आर्टिकल पढ़ सकते हो और सभी आर्टिकल में बहुत कुछ खास है धन्यवाद |