देश और दुनिया के इतिहास मे 23 दिसंबर की तारीख – आज का इत्तिहास

1859

देश और दुनियाभर के इतिहास में आज की तारीख यानी ’23 दिसंबर’ बहुत गहरा इतिहासिक महत्व रखती है , क्योंकि आज ही के दिन कई बड़ी घटनाये घटित हुई और साथ ही अनेक महान हस्तियों का जन्म हुआ , तो चलिए आइए अब हम एक नज़र डालें आज के इत्तिहास पर।

• घटनायें :

(1) 23 दिसम्बर 1465 में विजयनगर के शासक वीरू पक्ष द्वितीय तेली कोटा की लड़ाई में अहमदशाह बीदर बीजापुर और गोलकुंडा की संयुक्त मुस्लिम सेना से पराजित हुए थे।

(2) 1876 में आज ही की तारीख को तुर्की में पहले संविधान की उद्घोषणा की गई।

(3) 1662 में एक महान खगोलविद कैसिनी ने शनि ग्रह के एक उपग्रह रिया की खोज की।

(4) आज ही के दिन विश्व भारती विश्वविद्यालय का उद्घाटन हुआ था।

(5) आज ही के दिन पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता का नाम आधिकारिक रूप से बदलकर कोलकाता कर दिया गया।

(6) आज ही के दिन बीबीसी रेडियो ने दैनिक समाचार प्रसार का आरंभ किया था।

•जन्म :

(1) 23 दिसम्बर 1902 को भारत के पांचवें प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह का जन्म हुआ। उन्होंने 28 जुलाई 1979 से लेकर 24 जनवरी 1980 तक भारत के प्रधानमंत्री का पद संभाला।
देख किसानों के प्रिय नेता माने जाते हैं उन्हीं की याद में भारत में 23 दिसंबर को किसान दिवस मनाया जाता है।

(2) 23 दिसंम्बर 1888 के दिन बंगाल में एक कुशल राजनीतिज्ञ और स्वतंत्रता सेनानी सत्येंद्र चंद्र मित्रा का जन्म हुआ। सत्येंद्र चंद्र ने सुभाष चंद्र बोस और देशबंधु चितरंजन दास के साथ 1920 में कोलकाता के कांग्रेस के विशेष अधिवेशन में भाग लिया था।

•मृत्यु :

(1) 1926 में आज ही के दिन प्रसिद्ध स्वतंत्रता सेनानी एवं समाज सुधारक स्वामी श्रद्धानंद की हत्या हुई थी। स्वामी श्रद्धानंद आर्य समाज के प्रचारक थे।