PIA : Pakistan Plane Crash : पाकिस्तान में भयंकर Aeroplane crash दर्जनों लोगों की हुई मौत, रिपोर्ट देखे।

1387

पाकिस्तान में 22 मई 2020 शुक्रवार को हुआ एक Pakistan plane crash, जिसमे 97 लोगो की मौत हो गयी, और सिर्फ 2 लोग जिन्दा बच पाये। जिन्दा बचे लोगो में से एक का नाम था, मुहम्मद ज़ुबैर। यह हादसा PIA एयरबस A320 में हुआ, जो सीधे जाकर घरो से टकराया। हलाकि क्रैश होने की असली वजह अभी तक सामने नही आयी है।

Pakistan plane crash
Pakistan Plane Crash

अनुक्रम

क्या प्लेन क्रैश होने में पायलट की गलती थी?

पायलट ने पूरी कोशिश की थी, प्लेन को लैंड करने की, लेकिन पहेली बार में प्लेन लैंड नही हो पाया। फिर पायलट ने “मेडे कॉल” करके टेक्निकल इशू के बारे में बताया, जब प्लेन नीचे आने लगा। लेकिन अब काफी देर हो गयी थी। Pakistan plane crash की घटना में फिलहाल पायलट की कोई गलती निकलकर सामने नहीं आई है |

पाकिस्तान ने अभी 21 मई 2020 गुरुवार को ही अपनी एयरलाइन्स सर्विस शुरू की थी और उसके दूसरे दिन ही यह हादसा हो गया।

PIA एयरबस A380 दोपहर को 1:05 पर लाहौर ने निकालकर जिन्नाह जा रही थी, यह फ्लाइट जिन्नाह दोपहर को 2:40 को पहुचने वाली थी, लेकिन यह हादसा हो गया। इस फ्लाइट में 91 पैसेंजर्स और 8 फ्लाइट क्रू मेंबर्स थे। सिर्फ 2 ही जिन्दा बच पाये।

आखिर प्लेन कैसे क्रैश हुआ?

पायलट्स को पहेली बार में ही लैंड करने की परमिशन मिल गयी थी, लेकिन पायलट्स ने नही उतारा क्योकि प्लेन उसके अडंरकेरेज को नीचे नही कर पाया। सोशल मीडिया पर जो इमेजेस मिली है, उनमें भी दिखाई दे रहा था, की इंजन के नीचे अडंरकेरेज नही थे। और फिर, वह एक कॉलोनी में घरो से टकराया, वहा पर जो घर थे, वह भी पूरी तरह से तबाह हो गए, और आसपास पूरी तरह से आग लग गयी, और चार कारो में भी आग लग गयी।

Pakistan plane crash
Pakistan plane crash Site

पायलट्स के आखरी शब्द क्रेशिंग से पहले!

पायलट्स ने आखरी बार बात की थी, एयर ट्राफिक कंटोल रूम से, पायलट्स कह रहे थे, की प्लेन अपने इंजन खो चुका है, (plane has lost engine). फिर कण्ट्रोल रूम ने उसके जवाब में कहा कि क्या वे “बेली लैडिंग” करा सकते है, इसपर पायलट्स का जवाब आया, “*मेडे, मेडे, मेडे, मेडे*”। और यही उनके आखरी शब्द थे।

मेडे क्या होता है?

मेडे एक इस शब्द है, जो रेडियो कम्युनिकेशन में संकट के दौरान इस्तेमाल होता है। यह आईडिया Frederick Mockford नाम के रेडियो अफसर का था, क्रोयडॉन एयरपोट पर काम करते थे। उन्होंने ही “मेडे” शब्द का पहेली बार प्रयोग किया। “मेडे” एक फ्रेंच शब्द है, जिसका मतलब होता है, (m’aider) yaani “मुझे बचाओ”।

अगर आप ऐसे ही कमाल के आर्टिकल और पढ़ना चाहते है, तो नोटिफिशन ऑन करे और जैसे हमारी वेबसाइट Briefingpedia पर कोई नया आर्टिकल आएगा आपको उसका नोटिफिशन मिल जाएगा।