29 अप्रैल 2020 को क्या होगा दुनिया का अंत ?

2668

सोशल मीडिया पर एक ऐसी भविष्यवाणी सामने आई है जहां पर दावा किया जा रहा है | 29 अप्रैल 2020 को एक एस्ट्रॉयड आएगा और इस दुनिया को खत्म कर देगा | और एक तरफ आप देख ही रहे हो कोरोनावायरस के कहर को जिसने पूरी दुनिया को हैरत में डाल दिया है, अब देखते हैं की 29 अप्रैल को एक एस्ट्रॉयड पृथ्वी को खत्म करेगा या फिर यह कोरोनावायरस, और आपको बताते हैं 29 अप्रैल 2020 का असली सच क्या होगा आखिरकार इस दिन |

अनुक्रम

29 अप्रैल 2020 का असली सच:-

कहा जा रहा है कि एक बहुत बड़ा एस्ट्रॉयड 29 अप्रैल, को हमारी पृथ्वी से टकराने वाला है, और इससे दुनिया भी खत्म हो सकती है, 

 हां यह बात सही है कि 29 अप्रैल को एक एस्ट्रॉयड हमारी पृथ्वी को क्लोज अप्रोच करेगा | लेकिन मीडिया में फैली यह खबर कि अगर यह टकराया तो मानव सभ्यता का खात्मा निश्चित है, यह पूरी तरह से गलत है, इन स्टेटमेंट्स का कोई लॉजिक नहीं है, यह सिर्फ डराने और दहशत का माहौल पैदा करने के लिए उड़ाई गई अफवाह है |जिस स्ट्राइड के बारे में यह सब कहा जा रहा है वह है |

Asteroid 52768 (1998 OR2):-

एस्ट्रॉयड के बारे में जानकारी जुटाने पर हमें मिला कि यह एस्ट्रॉयड 2 किलोमीटर से 4 किलोमीटर डायमीटर का हो सकता है, अगर आप इस एस्ट्रॉयड के बारे में अधिक जानना चाहते हैं, तो आप नासा की वेबसाइट पर जा सकते हो (NASA)  जहां पर आप देख सकते हो सभी क्लोज अप्रोच करने वाले Near Earth ऑब्जेक्ट्स को जिन्हें नासा ने ट्रैक कर रखा है |

डाटा के मुताबिक हमारी पृथ्वी से 3.9 Million की दूरी से होकर गुजरेगा और क्या आप जानते हैं, कि यह दूरी धरती और चांद की दूरी से 16 गुना ज्यादा है, फिलहाल इस एस्ट्रॉयड से तो 29 अप्रैल 2020 में कोई प्रलय नहीं आने वाली है, नासा लगातार आसमान में ऐसे एस्ट्रॉयड और मेट्रॉयड्स को मॉनिटर करता रहता है, जो हमारी धरती के लिए खतरा बन सकते हैं, अगर ऐसा होता कि यह एस्ट्रॉयड वाकई में धरती से टकराने वाला होता, तो एक बड़े लेवल पर अलर्ट जारी कर दिया जाता लेकिन ऐसा तो कुछ भी नहीं हुआ |  

Esteroid Watch:-

एस्ट्रॉयड वॉच ने अपने एक Tweet के जरिए इस दावे को पूरी तरह खारिज कर दिया है, कि 29 अप्रैल को पृथ्वी से टकराएगा भी, उन्होंने कहा कि धरती से 3.9 मिलियन माइल्स कि दूरी से सुरक्षित निकल जाएगा, अब आप समझ सकते हो एस्ट्रॉयड को लेकर जो खबरें फैलाई जा रही है, वह पूरी तरह से गलत है | 

कब आया था ये एस्टेरोइड:-

यह एस्ट्रॉयड सन 1998 में खोजा गया था, और नासा उसे लगभग पिछले 20 सालों से मॉनिटर कर रहा है, ऐसा नहीं है कि यह अचानक से डराता हुआ धरती के सामने प्रकट हो जाएगा, और हमें पता भी नहीं चलेगा 20 सालों में हम उसके बारे में इतना तो समझ ही चुके हैं, कि उसकी ट्रांजैक्ट्री क्या है, और यह कैसे बिहेव कर रहा है, इसकी स्पीड जिसका अंदाजा हमने लगाया है, वह है 20,000 माइल्स पर आवर या उससे भी कम |

अगर हम उस एस्ट्रॉयड के बारे में बताएं जिसने डायनासोर को धरती से खत्म कर दिया था तो वह इससे कहीं ज्यादा बड़ा था लेकिन बात तो यह है कि वह धरती से टकराया था हां यह एस्ट्रॉयड भी अगर धरती से टकराता है तो प्रलय की संभावना बन सकती है लेकिन उसके बारे में सोच कर भी क्या डरना जो टकराने वाला ही नहीं है सबूत आपके सामने हैं आप नासा की वेबसाइट पर जाकर जानकारी ले सकते हैं

और 29 अप्रैल का दिन भी एक नॉर्मल दिन की तरह शुरू होगा वह एस्ट्रॉयड आएगा और पास से होकर गुजर जाएगा लेकिन, हां जो स्ट्रेंजर है, उनके लिए यह मौका खास होने वाला है, वह शायद इस मौके को मिस ना करना चाहे, और आप सभी अपने घर पर बैठकर इसे शायद देख सकते हो टीवी चैनल्स पर |

विडिओ देखने के लिए लिंक पर क्लिक करें