उत्तराखंड के मुख्य पर्यटन आकर्षण स्थल | 10 Best Tourist Places In Uttrakhand

2599

भारत के 29 राज्यों में से एक है उत्तराखंड जो की भारत के नक़्शे में हिमाचल प्रदेश के निचे व उत्तरप्रदेश के उपर है| उत्तराखंड भारत का एक खूबसूरत राज्य हैं और जो की पहाड़ो में स्थित है. इसकी राजधानी देहरादून हैं| उत्तराखंड देवभूमि या देवों की भूमि के रूप में भी प्रसिद्ध हैं| पहले इसका नाम उत्तरांचल था लेकिन अब इसको उत्तराखंड के नाम से जानते हैं| जो न केवल हिमालय की खूबसूरती का दावा करता हैं बल्कि एक सांस्कृतिक सभ्यता और लोकाचार की भावना को भी प्रकट करता हैं|

यहाँ से होकर ही गंगा नदी गंगोत्री से होकर निकलती है व् यमुना का उद्गम स्थल भी यही पर है और बहुत कुछ है| हमारे उत्तरखंड में जो आप इस आर्टिकल में पढेंगे.

अनुक्रम

Also Read- Travel Guide Pyramid of Giza

1- उत्तराखंड का पर्यटन स्थल केदारनाथ-

दोस्तों ये वही केदारनाथ है. जहाँ पर केदारनाथ मूवी को शूट किया गया था. जिसके मेन एक्टर सुशांत सिंह राजपूत और सारा अली खान ने अपना अभिनय किया था. उत्तराखंड का पर्यटन स्थल केदारनाथ अपने प्राचीन शिव मंदिर, तीर्थ स्थल, हिमालय पर्वतमाला और मन्त्र मुग्ध कर देने वाले द्रश्यो के लिए लोकप्रिय है. ये वो जगह है जय लोगो को जन्नत महशूस होती है. अगर आप भी शांत माहोल पसंद है. तो ये आपके लिए एक अच्छा दर्शनीय स्थल हो सकता है. वेसे ये माना जाता है की हमें अपने पुरे जीवन में एक बार केदारनाथ जरूर जाना चाहिए|

केदारनाथ मंदिर चोराबाड़ी ग्लेशियर और केदारनाथ की चोटियों से घिरा हुआ है. केदारनाथ में आपको वर्फ की चोटिया भी देखने को मिल जाएँगी. इसलिए जब वर्फ पड़ने लग जाती है तो मंदिर के द्वार बंद कर दिए जाते हैं. 2013 में केदारनाथ में बर्फ से ढकी चोटियों पिघने से सबसे भयानक आपदा देखने को मिली थी. जिसकी वजह से लाखो लोग की मृत्यु हो गयी थी. अगर आप केदारनाथ जाना चाहते हैं. तो केदारनाथ आने के लिये मई से अक्टूबर के मध्य का समय सही माना जाता है. क्योंकि इस दौरान मौसम काफी सुखद रहता है.  

Also Read गर्मियों में भारत के अन्दर घुमने की टॉप 10 जगहें

2- रानीखेत उत्तराखंड का पर्यटन स्थल –

जब बात उत्तराखंड राज्य की हो ही रही है तो आपको बताते है उत्तराखंड राज्य के एक फेमस जगह के बारें में जहाँ की खूबसूरती आपको एक बार तो जरूर रखनी चाहिए. रानीखेत प्रचीन मंदिरों के आसपास अंग्रेजो द्वारा विकसित किया गया एक ऐसा हिल या पर्यटन स्थल है. जो की पहाडियों के वादियो में स्थित है. जो हिमालय पर्वतमाला और जंगल को एक दूसरे से जोड़ता है. जिसकी वजह से इसकी खूबसूरती और भी ज्यादा बाद जाती है. रानीखेत जाना जाता है अपने शांत माहोल की वजह से एक तरफ से देखें तो उत्तराखंड एक शांत हिल एरिया है|

रानी खेत की शांत जलवायु और सरल प्राकृतिक सुंदरता यहां आने वाले टूरिस्टों अपनी ओर बहुत अधिक आकर्षित करती हैं. जिसकी वजह से पुरे साल सेलानी यहाँ घुमने के लिए आते रहते हैं. रानीखेत भारतीय सेना के कुमाऊं रेजिमेंट के मुख्यालय के लिए भी फेमस है और यहां एक कुमाऊं रेजिमेंटल सेंटर संग्रहालय बना हुआ है|

यहाँ पर आर्मी के लिए जो भर्ती होती है उसकी दोड़ भी यहाँ के आर्मी केंट मै करायी जाती है और यहाँ के कुमाऊं रेजिमेंटल सेंटर संग्रहालय में हथियारों और अनेको तरह की फोटो भी आपको देखने को मिल जाएँगी. फोटो आदि का बहुत ही खूबसूरत ढंग से प्रदर्शन यहाँ किया गया है. जो अपनी सेना के ऐतिहासिक भव्यता और महत्व का परिचय देता है. पहाड़ो की वादियो मैं बसा रानीखेत आपके लिए एक बहुत अच्छा पर्यटन स्थल हो सकता है.

रानीखेत के कुछ पर्यटन स्थल पैराग्लाइडिंग, झूला देवी मंदिर, चौबटिया बाग, स्थल कालिका, मनीला रानीखेत, द्वाराहाट ये वो स्थान हैं जिन्हें देखने के लिए दूर- दूर से लोग देखने के लिए आते हैं.

3- उत्तराखंड का नैनीताल पर्यटन स्थल-

नैनीताल पर्यटन या घुमने की दृष्टी से उत्तराखंड राज्य के सबसे खूबसूरत पर्यटन स्थलों में से एक हैं. जोकि कुमाऊं पहाड़ियों के बीच में स्थित एक विलक्षण पर्वतीय स्थल है. यानि यहाँ भी आपको पहड़ो की ढंडी हवाए व् शानदार द्रश्य देखने को मिलेंगे. वैसे यहाँ घुमने के लिए बहुत जगहें हैं. नैनीताल को नैनी झील के नाम से भी जाना जाता है. क्योंकि यहाँ पर नैनी झील भी है जिसकी प्रकृतिक सुन्दरता देखनें के कबिल है|

प्राकृतिक सुंदरता और झीलों की नगरी के रूप में प्रसिद्ध उत्तराखंड का  नैनीताल बर्फ से ढकी पहाड़ियों में पाया जाता है. यहाँ शांत झीलों के साथ एक आकर्षण सा तालमेल बनता है. अगर आपको पहाड़ अच्छे लगतें हैं तो आपके लिए ये एक अच्छा विकल्प हो सकता है. उत्तराखंड घुमने का लेकिन नैनीताल में भी बहुत से जगह हैं जहाँ आप घूम सकतें हैं. जैसे इको केव गार्डन, नैनी झील, नैना देवी मंदिर, द माल रोड आदि वह जगह हैं जो नैनीताल की काफी ज्यादा फेमस हैं.

4- उत्तराखंड का ऋषिकेश पर्यटन स्थल

ऋषिकेश उत्तराखंड राज्य के देहरादून जिले में स्थित एक प्रसिद्ध पर्यटन स्थल है. ऋषिकेश यह हिमालय की तलहटी में कई प्राचीन और भव्य मंदिरों के लिए दुनिया भर में जाना जाता हैं. इसकी भव्यता और पौराणिकता के लिए दूर-दूर से सेलानी यह घुमने के लिए आतें हैं. यहाँ तक की लोग विदेशो से भी ऋषिकेश घुमने के लिए आतें हैं. इसके अलावा उत्तराखंड का लौकप्रिय कैफे, योग, आश्रम और साहसिक खेलों का केंद्र भी है ऋषिकेश|

वैसे कई सालो से इसकी खूबसूरती में काफी बदलाब हुआ है. क्योंकि यहां माउंटेन बाइकिंग, बंजी जंपिंग व्हाइट वाटर राफ्टिंग, फ्लाइंग फॉक्स, आदि जगहों को देखने के लिए लोग आतें हैं. प्राचीन समय में ऋषियों और मुनियों ने यहां पर ध्यान, योग और प्रार्थना किया था ऐसा माना जाता है.

05- उत्तराखंड का पर्यटन स्थल मसूरी-

यह कहने की जरूरत नहीं है की मसूरी कितना सुंदर हैं यहाँ तक की बहुत सी मूवी और चैप्टर के पार्ट में भी मसूरी की सुन्दरता को दिखाया गया है. गढ़वाल हिमालय पर्वत माला की तलहटी के बीचो-बीच स्थित मसूरी पर्यटक स्थल जिसे “क्वीन ऑफ द हिल्स” के नाम से भी जाना जाता हैं. मसूरी समुन्द्र और ऊँची पहाडियो के बीच बसा एक पर्यटन स्थल है. मसूरी की ऊंचाई समुद्र तल से लगभग 7000 फीट है|

मसूरी अपनी खूबसूरती की वजह से भारत में तो जाना जाता है बल्कि विदेशो से भी लोग इसकी खूबसूरती को देखने के लिए आतें हैं. पूरे वर्ष एक शांत और सुखद जलवायु का अनुभव कराता है मसूरी कपल के लिए हनी मून के लिए ये जन्नत के समान है.

अगर आपने प्लान बना लिया है. तो अब आपको बताते हैं की आप मसूरी मै कहाँ-कहाँ घूम सकतें हैं. जैसे- माल रोड, लाल टिब्बा लेक मिस्ट मसूरी, भट्टा फॉल्स, क्लाउड्स एंड, द मॉल, मसूरी में पैराग्लाइडिंग और ट्रेकिंग, नाग टिब्बा ट्रेक, बेनोग वन्यजीव अभयारण्य मसूरी, धनोल्टी मसूरी, मोसी फॉल, झरीपानी फॉल्स, कंपनी गार्डन मसूरी ये स्थान हैं जो मसूरी के सबसे ज्यादा पोपुलर हैं.

6- उत्तराखंड का पर्यटन स्थल बद्रीनाथ- 

आपने चार धाम की यात्रा के बारें में तो सुना ही होगा अगर आपने नही सुना है. तो हम आपको बता दें की यह यात्रा उत्तराखंड में ही पूरी होती है. चार धाम की यात्रा में एक बद्रीनाथ धाम की यात्रा को भी गिना जाता है. वैसे उत्तराखंड का पर्यटन स्थल बद्रीनाथ नर और नारायण पर्वत श्रृंखलाओं के बीचो-बीच नीलकंठ पर्वत शिखर पर स्थित चारों धामों में से एक तीर्थ स्थल हैं. हमारे हिन्दू धर्म मैं अगर कोई काम पूरा हो जाता है. तो लोगो के मुह से ये ही शब्द निकलता है की मैने चार धाम की यात्रा कर ली है. बद्रीनाथ धाम भगवान विष्णु को समर्पित एक तीर्थस्थल है|

बद्रीनाथ धाम का उल्लेख विभिन्न वेदों में भी किया गया है. इसी वजह से इसको पवित्र माना जाता है. उत्तराखंड का पर्यटन स्थल बद्रीनाथ हिंदू पौराणिक कथाओं में उल्लेखित होने के कारण विशेष रूप से भगवान शिव से संबंधित है. लोगो का यह भी मानना है की जीवन मैं एक बार चार धाम की यात्रा जरूर करनी चाहिए या फिर अपने माता-पिता को चार धाम की यात्रा जरूर करानी चाहिए.

7- उत्तराखंड का पर्यटन स्थल हरिद्वार-

उत्तराखंड के हरिद्वार को एक पवित्र स्थान माना जाता है. यहाँ लोग गंगा नदी में नहाने के लिए दूर-दूर से आतें हैं. हरिद्वार एक पवित्र स्थान भी माना जाता है. भारत के सात सबसे पवित्र शहरों में सुमार हरिद्वार उत्तराखंड राज्य के गढ़वाल क्षेत्र में गंगा नदी के तट पर स्थित एक खूबसूरत प्राचीन समय का शहर है। हरिद्वार में अधिकतर आपको आश्रमों, मंदिरों और संकरी गलियों देखने को मिल जाती हैं|

यहाँ साल ले बारहों महीने में लाखों की संख्या में लोग पवित्र गंगा नदी में डुबकी लगाने आते हैं. प्रत्येक बारह वर्षों में एक बार हरिद्वार में विश्व प्रसिद्ध कुंभ के मेले का आयोजन किया जाता हैं. यह मेला इतना ज्यादा विशाल होता है की लगभग सभी राज्यों की पुलिस को यहाँ आना पड़ता है. कुम्भ के मेले में शामिल होने और उसका आनंद लेने के लिए पूरे भारत वर्ष से पर्यटक तो आतें ही हैं बल्कि विदेशो से भी लोग इस भव्य मेले को देखने के लिए आतें हैं. हरिद्वार मैं आपको प्राचीनतम लोकप्रिय चीजे देखने को मिल जाती हैं.

8- उत्तराखंड का जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क-

अगर आप पार्क देखने के सौकीन हैं तो ये प्लेस आपके लिए बहुत अच्छा हो सकता है. क्योंकि यहाँ पर आपको वन्य जीव, वन, हाथी और बहुत से जानवर देखने को मिल सकते हैं. जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क उत्तराखंड राज्य में हिमालय की तलहटी के बीच में स्थित एक आकर्षित नेशनल पार्क हैं. हम आपको बता दें की यह भारत के सबसे पुराने राष्ट्रीय उद्यानो में से एक जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क की स्थापना सन 1936 में हुई थी. जिम कार्बेट नेशनल पार्क में रॉयल बंगाल टाइगर की गंभीर रूप से लुप्तप्राय प्रजातियों का निवास स्थान बनाया गया हैं|

यहाँ पर बड़ी बड़ी सेलिब्रिटी भी घुमने के लिए अपना अच्छा समय व्यतीत करने के लिए आतीं हैं. हिमालय की तलहटी में रामगंगा नदी के किनारे स्थित जिम कार्बेट नेशनल पार्क में लगभग 580 पक्षी प्रजातियों और 50 प्रजातियों के पेड़ और जानवरों की लगभग 50 प्रजातिया और  25 सरीसृप प्रजातिया के साथ साथ 500 से अधिक वर्ग मीटर के क्षेत्र में विस्तृत है. ये आपके लिए उत्तराखंड के घुमने के हिसाब से बिल्कुल सही हो सकता है. यहाँ आपको कार की बुकिंग या ट्रेवल गाइड भी सस्ते दामों मैं मिल जातें हैं. जो आपको पुरे जिम कार्बेट पार्क में घुमातें हैं.

9- उत्तराखंड का पर्यटन स्थल यमुनोत्री-

देवभूमि कहे जाने वाले उत्तराखंड में से ही गंगा जिसे हमारे पुरे भारत में माँ का दर्जा गिया गया है. वह गंगा भी उत्तराखंड में स्थित यमुनोत्री से ही निकलतीं हैं. और यही पर गंगा यमुना का भी संगम होता है. जिसे आपने कई मूवी या सोंग में इसके बारें मैं सुना भी होगा. 3293 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है. यमुनोत्री धाम गढ़वाल हिमालय की गोद में बसा हुआ हैं. हिंदू पौराणिक कथाओं के अनुसार यम की बहन के रूप में यमुना को मौत के देवता के रूप में प्रतिष्ठित करती हैं. यह कहावते हैं. जो पुराने समय से चली आ रहीं हैं हम इनका दावा नही करतें हैं|

यह भी माना जाता है कि यमुना में स्नान करने से जीवन के अंतिम समय में मृत्यु दर्द रहित हो सकती है. यानि यमुना में जो एक बार स्नान कर लेता है उसकी मृत्यु के वक्त उसे दर्द नही होता है.

10- उत्तराखण्ड का पर्यटन स्थल अल्मोड़ा-

दोस्तों पर्यटन की स्थिति से अल्मोड़ा भी एक बहुत अच्छा टूरिस्ट प्लेस है. अल्मोड़ा हिमालय पर्वतमाला के जंगल में फैला हुआ एक विशाल शहर है. यह खूबसूरत हिल-स्टेशन जो पूर्व ब्रिटिश विरासत और एडिबल वाइब का दावा  प्रस्तुत करता है. यानि इसको व्रिटिश काल मैं बनाने का दावा किया जाता है. अपनी समृद्ध सांस्कृतिक विरासत, शानदार भोजन, शानदार वन्य जीवन के लिए यह स्थान प्रसिद्ध हैं. वैसे अल्मोड़ा में कृषि भी की जाती हैं. यहाँ आपको सीडी दार खेत भी देखने को मिल जायेंगे. यहाँ की कोशी जिसे कौशकी के नाम से भी जानते हैं. और सुयाल जिसे सलमली के नाम से भी जानतें हैं. यहाँ पर आपको देखने के लिए मिल जाएँगी.

अगर आपके के पास कोई सुझाव या इसके बारे में कोई और सवाल है तो हमे Comment Box में लिख कर जरुर बताएं | हमारी website के Notification को Enable जरुर कर लें ताकि आपको हर जानकारी सबसे पहले मिल सके | अगर आप अपनी ज्ञान की सीमा को और बढ़ाना चाहते हैं, तो आप हमारे फेसबुक पेज पर विजिट कर सकते हैं।