Quantum computer explained in Hindi

2656

नमस्कार दोस्तों कैसे हैं आप सब दोस्तों आज के युग को कंप्यूटर युग कहा जाता है। कंप्यूटर आज हमारी जिंदगी का एक अहम हिस्सा बन चुका है। आज लगभग हर क्षेत्र में कंप्यूटर का उपयोग होता है। पुराने समय में कंप्यूटर का आकार बहुत बड़ा होता था लेकिन समय के साथ जैसे-जैसे टेक्नोलॉजी का विकास हुआ यह कंप्यूटर और भी छोटे और एडवांस होते गए और भविष्य में यह कंप्यूटर और भी ज्यादा एडवांस होंगे।
लेकिन क्या आप जानते हैं कि आने वाले भविष्य में आज के कंप्यूटर्स के स्थान पर Quantum computer का उपयोग किया जाएगा जी हां आज के इस आर्टिकल में हम क्वांटम कंप्यूटर के बारे में जानेंगे

क्या है Quantum computer

वर्तमान समय में Quantum computer पर काफी बड़े लेवल पर रिसर्च चल रही है।
अभी हम जिन कंप्यूटर का इस्तेमाल करते हैं वह बाईनरी सिस्टम पर चलते हैं जिनमें सिर्फ 1 और 0 डिजिट होती हैं इन डिजिट को बायनरी नंबर कहा जाता है। इन कंप्यूटर में जो सॉफ्टवेयर काम करते हैं वह 0 और 1 की भाषा को ही समझते हैं। और यहां पर जिन 0 और 1 का प्रयोग होता है उन्हें हम bits कहते हैं। bits में information दो स्टेट में होती है 0 या 1 अब अगर हम बात करें क्वांटम कंप्यूटर की तो ये Bits पर नहीं बल्कि Qubits पर काम करती है। Qubits मे information 0 स्टेट में भी हो सकती है, 1 में भी हो सकती है और दोनों में भी हो सकती है। और इन्हीं की वजह से एक क्वांटम कंप्यूटर साधारण कंप्यूटर के मुकाबले कई गुना तेज होता है। ऐसी कई मुश्किल equations होती हैं जिन्हें साधारण कंप्यूटर हल नहीं कर पाते या फिर करते भी हैं तो उनमें टाइम बहुत लगता है। लेकिन क्वांटम कंप्यूटर ऐसी equations को चुटकियों मे हल कर सकता हैं।
गूगल ने इस क्षेत्र में एक महत्वपूर्ण काम किया है। गूगल ने एक ऐसी क्वांटम कंप्यूटिंग चिप विकसित की है जो आज के कंप्यूटर से भी कई गुना तेज है। गूगल का कहना है कि जिस काम को करने में आज का सबसे तेज सुपर कंप्यूटर 10000 साल लेता है उसे इस चिप के द्वारा 200 सेकेंड में ही खत्म कर लिया जाएगा।

Quantum computer kya hai
Quantum computer

Quantum computer के फायदे

  • क्वांटम कंप्यूटर बनने के बाद Artificial intelligence जैसी तकनीकों में क्रांति आएगी।
  • क्वांटम कंप्यूटर में ऊर्जा की खपत आज के कंप्यूटर्स के मुकाबले कम होगी।
  • आज के समय में जो कंप्यूटर उपयोग होते हैं उनमें डाटा लीक होने या फिर हैकिंग आदि का खतरा बना रहता है लेकिन क्वांटम कंप्यूटर में इसकी संभावना बहुत कम होगी जिससे साइबर क्राइम कम होगा।
  • क्वांटम कंप्यूटर बनने के बाद इनका उपयोग अंतरिक्ष विज्ञान के क्षेत्र में भी किया जाएगा जिससे खगोलीय घटनाओं की परिशुद्धता बढ़ेगी।
Quantum computer
Quantum computer

भारत में Quantum computer

हमारे देश भारत में इस क्षेत्र पर बड़े लेवल पर काम शुरू हो गया है सैद्धांतिक स्तर पर भारत में इस पर अभी काफी अच्छी रिसर्च की जा रही है।
TIFR(Tata institute of fundamental research), HRI Allahabad, IISER Pune, IISER Kolkata आदि संस्थानों में इसके लिए रिसर्च शुरू हो चुकी है। भारत की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 2020 के आम बजट में क्वांटम कंप्यूटिंग के लिए 8,000 करोड रुपए खर्च करने की घोषणा की है।

quantum computer in india
quantum computer in india

तो दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हमने Quantum computer के बारे में जाना। उम्मीद है आपको इस आर्टिकल में दी हुई जानकारी पसंद आई होगी और अगर आपको यह जानकारी पसंद आई है तो इसे अपने मित्रों के साथ जरूर शेयर करें ऐसे ही।
और आर्टिकल्स के लिए हमारी वेबसाइट briefingpedia को सब्सक्राइब करना ना भूलें मैं मिलता हूं आपको बहुत जल्द ऐक नये आर्टिकल के साथ तब तक के लिए नमस्कार